चुदाई का ट्यूशन की कहानी


chudai ki tution ki kahani अनिल ने अब तक जितनी भी लड़कियों को ट्यूशन पढ़ाया था दिव्या उन सबसे सेक्सी और चुदाई के लिए पकी हुई थी. मेकॅनिकल इंजिनियरिंग के सेकेंड एअर में पढ़ रहे अनिल ने इससे पहले केवल 7थ – 8थ के स्टूडेंट्स को ट्यूशन पढ़ाया था… उस उम्र में कुच्छ लड़कियों के स्तन उभर तो आते हैं पर जो आकार और गोलाई 11थ में पढ़ रही दिव्या की चुचियों में था वो उनमे में नही था. और उस समय अनिल भी कहाँ केर करता था. इंजिनियरिंग कॉलेज में आने के बाद ये तीसरी लड़की है जिसे अनिल ट्यूशन पढ़ा रहा था.

इससे पहले उसने मीनाक्षी और देवयानी को पढ़ाया था. मीनाक्षी तो दुबली पतली थी और उसकी चुचियाँ अभी तक विकसित नही हुई थी. हां देवयानी सेक्सी थी और इसे लाइन भी दे रही थी पर अनिल को कभी हिम्मत ही नही हुई पहल करने की. छ्होटे सहर के संस्कारी वातावरण से आए अनिल के लिए ये समझना बहुत कठिन था कि देवयानी जान बूझ कर अपने ब्रा और चुचियाँ उसे दिखा रही है या बस ग़लती से उसे दिख जा रहा है. अपनी ग़लती का एह्शास तो उसे तब हुआ जब एग्ज़ॅम से पहले वो देवयानी को बेस्ट ऑफ लक विश करने गया था तो घर में अकेली देवयानी ने उससे लिपट कर उसकी छाती पर अपनी चुचियाँ दबा दी थी. जब अनिल के उम्मीद से अधिक देर तक और अधिक ज़ोर से देवयानी उससे लिपटी रही तो अनिल की पॅंट में कुच्छ गतिविधि हुई और उसका हाथ देवयानी की छोटी सी स्कर्ट में छिपी गोल कोमल गांद पर गया.

देवयानी ने अपने पैर उपर उठा अनिल की पॅंट में उभड़ रहे पर्वत को उसके अनुकूल स्थान के निकट ला दिया. अनिल के हाथों का ज़ोर बढ़ा और उसने देवयानी को बगल की दीवार की ओर धकेल कर उसके बदन को अपने बदन से मसल्ने लगा. देवयानी ने आँखे बंद कर अपने चेहरे को उपर की तरफ उठाया, अनिल ने आमंत्रण स्वीकार करते हुए उसके गुलाब के पंखुरियों समान नशीले होंठों पर चुंबन जड़ दिया. दवयायानी ने अपने मुँह को खोल अनिल की जीभ को उकसाया. सिर्फ़ अनिल की जीभ दवयायानी के मुँह में नही गयी, उसका हाथ भी दवयायानी की शर्ट में घुस उसकी ब्रा में दबी रसगुल्ले जैसी चुचियों को मसल्ने लगा था. दवयायानी के संपूर्णा समर्पण से प्रोत्साहित हो अनिल उसकी शर्ट के बटन को खोल काले ब्रा में आधी धकी हुई सफेद चुचियों के गुलाबी निपल को चूसने लगा. राक कॉन्सर्ट के ड्रम की तरह धड़कते दिल,

यह कहानी भी पड़े या तो आज या फ़िर कभी नहीं

धड़कन के साथ लयबद्ध हो फूलती चुचियाँ, और वॅक्यूम क्लीनर की तरह चलती साँसों के साथ दीवार से अटकी दवयायानी अपनी आँखे बंद सबकुच्छ लुटाने को तैयार खड़ी थी. उसकी चुचियों से सारे रस को निचोड़ लेने के बाद अनिल अपने लक्ष्या की तरफ बढ़ा, स्कर्ट खोल कर नीचे गिरने और स्कर्ट सरका कर रेशमी बालों के बीच सुगंध बिखेरती अमृत टपकाती दवयायानी की गुलाबी चूत को प्रकाशमान करने में अनिल को अधिक वक़्त नही लगा. चूत को पहली बार आँखों के सामने प्रत्यक्ष देख कर अनिल के मुँह और लंड दोनो से लार टपक पड़ी. अपनी उंगलियों के नाख़ून को अपनी हथेली में दबाती हुई, अपने निचले होंठ को दांतो तले दबा, आँखों को बंद कर बढ़ती धड़कन और तेज़ होती साँसों के साथ दवयायानी मुर्तिवत खड़ी हो अपनी पंखुरियों के खुलने और भवरे द्वारा रस को चूसने का इंतेज़ार कर रही थी.

थोड़ी देर रेशमी झाड़ियों से खेलने के बाद अनिल की उंगलियाँ शबनम से गीली हो चुकी गुलाबी पंखुरियों के बीच जा पहुँची. उन पंखुरियों के गीलेपन, चिकनाई और गर्मी का एह्शास करते हुए उसकी उंगली प्रेम की गहराइयों में जा घुसी. दवयायानी मचल उठी, उसके मुँह से सिसकारियाँ निकल गयी. सिसकारियो ने अनिल को भी जोश में ला दिया और अनिल की उंगलियाँ गहराई में जा उस कच्ची कली की सिंचाई करने लगी. उंगलियों से सिंचाई कर कली को फूल बनाने की पूरी तैयारी कर अनिल कली को फूल बनाने के लिए बिस्तर पर ले गया और अपनी पॅंट की ज़िप को खोल जल से भरे ट्यूबिवेल को बाहर निकाला. तभी किसी के आने की आहट सुनाई दी. दवयायानी स्प्रिंग की तरह उच्छल कर अपने स्कर्ट की ओर लपकी और अपने कपड़े ठीक करने लगी. अनिल ने भी जल्दी से अपने हथियार को अंदर डाला और दवयायानी के कमरे से निकल कर भागा.

यह कहानी भी पड़े Barish Me Jabalpur Vali Nangi Jawan Ladki

इसके बाद तो एग्ज़ॅम हुए, फिर ट्यूशन बंद और फिर दोनो को कभी मिलने का मौका नही मिला. चुदाई के इतने नज़दीक पहुँच कर मिस कर जाने पर अनिल पागल हो उठा था. उस दिन की घटना को, दवयायानी के नंगे बदन को याद कर कर अनिल ना जाने कितनी ही बार हिला चुका था. पर जो मज़ा असली चुदाई का है वो हाथ में कहाँ. दिव्या को पहली बार देख कर अनिल का लंड अपनी अधिकतम लंबाई पर पहुँच गया था. उसने उस रात तीन बार हिलाया. दिव्या दवयायानी से ठीक उल्टी थी. वो गाओं से पहली बार 11थ की पढ़ाई करने आई थी. उसके पिताजी किसान थे और सबलॉग गाओं के संस्कारों के पुजारी थे जहाँ गुरु को भगवान से भी उँचा दर्जा दिया जाता है. अनिल के घर पहुँचने पर दिव्या की मा हाथ जोड़ कर अनिल को प्रणाम करती और दिव्या पावं च्छू कर प्रणाम करती. दूसरे माले पर दिव्या का बेडरूम था,

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2 3 4


Online porn video at mobile phone


आह अममी औह हीनदी सेकस कहानीयाSex ke dauran jaldi jhrnaचुदाइ किकहानिसफर मे चुदाई की अंतरवासनाबाबा हिंदी सेक्स स्टोरीBhabhi ke sath dhokha Viagra lund chut gandमधुर कानी सेक्सी स्टोरी मधुर कहानीआम दाब xxxगाँव में नंगी औरतों को नंगा देखा नदी के किनारे सेक्स storiesChoot ka jharna antarvasanbubs pakdayaसासुमा के चोदाकाली।चूतवासनाचुचिmeri bhabhi ke kamuk uroj hindi sex storymere land par chot lag gai maa ne malish kiमराठी सेक्स कथा मावशी बाथरूमGarndmari.behen.ki.hindi.meDelhi metro chudai story antarwanaचुची और चुदाई की कहानीकमली काकी के सैक्स विडियोfarhin ki waterpark me chudai kahaniwww xxx veedio handi bhabhi ki chudaiAntrvasna facebook Parptaपापा आंटी की चुदाईतन मन सेक्स की गंदी स्टोरीचूत चुदाईरोज न ई चुदाईकहानीbuyprednisone.ru suhagratग्रुप में दर्द चुदाई कहानीxxx hende kahane gand ke chudae dono jinsmaderchod beta Hindi sex storyनंगे चूचे चूसनाखिड़की में से चुदाई देखकर चुदाई कीofhish me fhak hindi xxxchudai इजाजत दी पति नेभाभी को चुदते देखाबुबस को दबाकर लाल कर दिए पडोस की भाभी की मोटी गाड की मालिशलंड पे मंगलसूत्र लपेट के चूसphimsetmyhangअंकल बेटे मिली भगत माँ की चुदाईमामी कि चुदाईगांड मारीXxxnnxxx मम्मी के सामनेfimsex vangorgyatra me risto me hui chudai ki hindi storyदेसी लड़की की नथ उतारी सेक्सKarsanji ki kahaniyan hindi meदीवाली सेक्स स्टोरीbehen ke chuth ke bal antarvasna pert 2सविता की चूत की मालिशjawanladkichootlambe balo wali doli ko choda sex storyमेरी रेखा चाची की चुदाई कहानीछोटी बहन के छोटे स्तनppaiso ke liye. randi baniनंगीजवानलडकिया अंग प्रदर्शन कर रही होएक सेठानी जो मोटी थी जो लंड चुतGosiya mast sex hdpados ke ladke se pyas bujhaiantarvasna new hindi sex storisHindi porn stories akhodekhimom aafriki lund se chudiindian seyx videos 25 वरश आनटिSaheb maza aa raha hai sexबीबी और उसकी सहेली की चुदाई की स्टोरीजबुआ दीदी ने बुर चोदाना शिखय की कहानी हिन्दी मेअन्तर्वासना खेत मेंहिन्दी गंदी कहानी में चुद गयी चौकीदार से Antarvasana.bhiga badan aur uncal se chudaiआंटी पैंटी पेट माल