एक अनोखा संयोग


Click to Download this video!

मैं एक बार एक गोरखपुर से दिल्ली ट्रेन का रिजेरवेशन न मिलने के कारण स्लीपर बस से यात्रा कर रहा था। मुझे सीट भी आखिरी, अपर स्लीपर, मिली जो दो लोगों के सोने की थी लेकिन शायद कोई सवारी न होने के कारण ही देर होने के बाद भी रुकी हुई थी। मेरे बैठने के साथ ही ड्राइवर ने बस चला दी। ड्रेस चेंज करने के बाद, लूँगी बनियान में ही थका होने के कारण 10 बजे के आसपास सो गया। चूंकि बस नानस्टाप थी, इसलिए भी निश्चिंत था कि अब रास्ते में कंडक्टर सवारियाँ तो लेगा नहीं।

रात में महसूस हुआ कि कोई मेरे पास लेटा हुआ है और उसका हाथ मेरे लन्ड को सहला रहा है। पहले मैंने सोचा कि मेरा सपना होगा पर फिर वही हुआ तो चुपचाप बिना हिले ड़ुले यह देखने की कोशिश की कि यह हो क्या रहा है और कौन कर रहा है। बहाने से मैंने टटोलने के लिए अपना हाथ बढ़ाया तो हाथों को चूचियों का स्पर्श हुआ। मतलब कि मेरी सहयात्री कोई महिला थी। अब तो डर के मारे मेरी और भी गाण्ड फटने लगी कि कहीं बवाल न हो जाए।

यही समझ में नहीं आ रहा था कि यह सपना है या हकीकत, पर बस के झटकों से यह लगा कि कुछ तो गड़बड़ है। घड़ी में रात का 1 बज रहा था। आहट लेने पर महसूस हुआ कि बस काफी स्पीड में चल रही है और सब लोग भी सो रहे हैं और कोई आहट भी नहीं मिल रही थी।

फिर मैंने नींद के बहाने और अपने लन्ड पर धीरे धीरे उस महिला के हाथ के न रुकने वाले स्पर्श को ध्यान में रखते हुए अपने हाथ का दबाव बगल में लेटी हुई महिला की चूचियों पर कुछ बढ़ा सा दिया और टांग को उसकी जांघों पर इस तरह से रखा कि उसका हाथ मेरे लन्ड को सहलाता भी रहे।

यह कहानी भी पड़े सविता भाभी : जुड़वां चक्कर- दोहरी मस्ती दोहरा मजा

इसके बाद तो जैसे उसकी हिम्मत कुछ अधिक ही बढ़ गई और उसने यह समझते हुए कि मैं सो रहा होऊँगा, मेरी लुंगी हटा कर लन्ड को बाहर निकाल कर अपने कब्जे में ले लिया। जब इतना हो गया तो फिर मैंने भी कुछ आं ऊं आं ऊं करते हुए अपना हाथ उसकी चूची से हटा कर उसकी पीठ पर रख दिया। और जब इस पर कोई रिएक्शन नहीं मिला तो फिर नींद की माँ चोदते हुए उस औरत को चोदने के मूड में आ गया और उसको बाहों में भर कर अपने सीने से लगा कर उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिये।

अम्मम… कितने गरम होंठ थे उसके। इसके पहले कि मैं उसको किस करना शुरू कर पाता, उसने खुद ही मुझे चूमना शुरू कर दिया। अब तो शक कि कोई गुंजाइश नहीं थी कि उसका और हमारा मक़सद एक है। अंधेरा होने की वजह से चेहरा भी नहीं देख पा रहा था लेकिन इजहारे मोहब्बत का कोई बन्धन महसूस नहीं हुआ और उसने भी मुझे अपनी बाहों में भर लिया और पता ही नहीं चला कि हम कब तक एक दूसरे को चुम्बन करते रहे।

चूंकि चुदाई की दोस्ती बहुत महान होती है इसलिए उसकी इच्छा का पूरा सम्मान करते हुए और उसको बाहों में भरे हुए ही मैंने उसकी आँखों को भी चूमा, उसके कानों के किनारों को भी कुतरा और इस बीच, मुझे महसूस हुआ कि वह झड़ी भी।

सभी सीटों पर परदे होने की वजह से किसी से इतनी रात में खलल की भी उम्मीद नहीं थी। फिर भी मैंने उसके कान में कह दिया कि आवाज न हो बस में।

यह कहानी भी पड़े मेरी चाची एक नंबर वन रंडी

इस पर उस महिला ने उठ कर अपने बैग से एक साड़ी निकाल कर उसको सीट के दोनों छोरों से इस तरह से बांधा कि कोई अंदर तक झांक ही न सके। मैंने भी उठ कर पर्दे रूपी साड़ी बँधवाने में उसकी मदद की और उसके बाद जैसे ही वह मेरी तरफ मुड़ी। मैंने बैठे बैठे ही उसको अपनी बाहों में भरते हुए ब्लाउज के बटन खोल कर ब्रा हटा दिया और उसकी रसभरी चूचियों को चूसने और कुतरने लगा और साथ में उसका पेटीकोट भी उतार दिया।

इसके बाद तो जो सेक्स का दौर-ए–मुहब्बत शुरू हुआ तो उस औरत ने सभी सीमायें पार करते हुए मुझे अपना गुलाम समझते हुए बहुत तबीयत और प्रेम से मेरी ही चुदाई कर डाली। अगर कहीं भगवान औरतों को लन्ड दिये होता तो सचमुच वो मेरी गांड फाड़ चुकी होती।

उसने अपने होंठ मेरे होंठों पर रख दिए और मेरे बदन को सहलाने लगी। होंठ चूसते चूसते साली मस्ती के मारे सख्त लण्ड को मसलने लगी। लण्ड पर उसका हाथ पड़ते ही गुदगुदी सी भर गई और मैं उससे लिपटता चला गया।

करीब दस मिनट तक होंठ चुसाई और चूची मसलन के बाद मैं अब चोदने को तैयार था। लेकिन अभी भी लण्ड चुसवाने की इच्छा को दबा नहीं पाया था इसलिए 69 पोजीशन में आ गए। कपड़े पहले ही कम कर चुका था। अब दो नंगे बदन एक दूसरे में समां जाने को तैयार थे। मैं अपना लण्ड चुसवाना चाहता था इसलिए उससे कहा- मेरी जान, कम से कम मुँह से लण्ड तो चूसो…

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2 3 4

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


Maa ne unka raj bataya sex storidewar ne dildo dekhliya kahanibeti rozana chudaiचूत से पानी टपकने लगासेकसीलडकीAntarvasna dono padosan anty ki galiyasexy story fufa ji ka land chusaशिला आंटी की चुदाईबहु ने हेंड जॉब की रात में ससुर जी कीचुदाईmasag palar vale kee antrvasnaमम्मी पापा सेक्स स्टोरीहिंदी चुदाई स्टोरी आउचमेरी बहेन दीपा की हॉट चुदाई 3chik nikal gaand faad indian sexपड़ोसन छूट की स्टोरीसास की चूतचूत चूतDelhi university girls hostel pati injay sex bur chudwane ke liye laundaसेक्स हिंदी स्टोरी सेल की बीवी2 ladaki 1ladaka sex stories hindi meri mangalsutra apne land me lapet kar choda adio sex storimaderchod beta Hindi sex storyकविता आंटी के प्यार मे चुदाईsexy story posan wale antydudhki chudaikahaniबाती की चूत फट गईचूत से पानी टपकने लगाsex100%vetnambahanchod bhai bahan ki chut maregaBhu sasur porn padhe hindiपति के सामने दिल खोल के चूदीaaj mai teri chut chod kar rahunga aahhhh bubyचोदाईसाली की चुदाईchorni ki hindi sex khaniyaरीतु चुदाई दीदी शरदीचुदाई बहन की शादी मेचोदी चोदा फोटोचची की चुदाई बेटी के सामनेबुबस को दबाकर लाल कर दिएSex stories. Behan ka giftnoukari chahiye to biwi aur ma chudwani padegiपापा आंटी की चुदाईपत्नी समज के छोटी बहन की चुदाई स्टोरीरीतु चुदाई दीदी शरदीपत्नी को चुदते देखा सेक्सchudaiki lhanaiसहेली के पति से सेक्स कहानियांMaa ki chudai malish kahaniMay chikhti wo chodta raha hindi kahaniyaबुआ के साथ शेकश कहानीभैया गांड दुःख रही हैंCha dượng đụ luôn con gái.mp4चुचियों का दबाmama bhanji ke pyare anterwaanaमाँ को चोदा समुंदर मेएक दूजे के लिए सेक्स कहानीबुरभाभी चूतड छेदphimsetmyhangचुतDelhi university girls hostel pati injay sex दोग्गी सेक्सक्स videoमाँ को खेत में चोदादीदी चूत दिलवा दोwww.sasur ne dahu chikh nikali chudwaya hindy saxi kahani.comहिंदी सेक्स स्टोरीज सबने मिलकर छोड़ाMaa ki iccha bete ne puri kiघर जाकर किया चुदाईतन्हाई रूपाली सेक्सबेटे का प्यासा लंड बाजी की ऊँगली मेरे लंड पर टच होमेरी गांड भी बहुत ही बुरी तरह से मारता थाhindi saxi bhadhyaPorn Babli kaki ghu hindi kahani    भाभी को पटककर जबरदस्ती चोदाई कीचूतसेक्सी स्टोरी हिंदी ताउजी नेचाची ने रात को लौंडा चूसा सेक्स स्टोरीजसाडी मेँ सेक्सी सीनलंड की भूखी मेंहस्बैंड स्वैपिंग की चुदाई की कहानियाँ हिंदीचूत की फांकेंमराठी सेक्स कथा मावशी बाथरूम