गुलाबी बदन पार्ट -1


” सहा नहीं जा रहा है. अब मुझको थामकर बिस्तर पर ले चलो प्लीज़.”

अपूर्वा उसी प्वाइंट पर आ गई थी जहां मेरा दिल भी पहुंचा हुआ था. मेरा एक हाथ उसके घुटनों पर पहुंचा और दूसरा हाथ उसकी पीठ पर. प्यारी अपूर्वा के खूबसूरत कोमल बदन को बाहों में थामे मैं बिस्तर की ओर चला. बाहों में थमे हुए गुलाई में ढला अपूर्वा का बदन मुझसे चिपक चला था.अपूर्वा की आंखों की पुतलियां एकटक मेरी आंखों में डूबी मुझे निहार रही थीं और उसके मादक रसीले होठ बिला-संकोच आवाज करते मेरे होठों को लगतार चूमे जा रहे थे.

अपूर्वा उस वक्त मुझे अत्यंत खूबसूरत और प्यारी लग रही थी. “ये पल फिर न जाने हासिल हों” मैने सोचा कि उसके एकएक अंग को मै आज जी भरकर निहार लूं. उसकी छरहरी देह जैसे बड़ी फुरसत में गढ़ी गई नक्काशी की प्रतिमा थी. सिर से पैर तक बदन का हर अंग मन को मोह लेने वाले इतने खूबसूरत कटाओं से भरा था कि प्यारी अपूर्वा की समूची देहयष्टि में हिमालय की कंदराओं से अपनी उछ्लती तरंगों के साथ चट्टानों के बीच से आड़ी-तिरछी दौड़ती निर्मल, चंचल उस मानभरी सरिता की सुन्दर छबि दिखाई पड़ती थी जिसका स्निग्ध, शीतल, पारदर्शी जल चाहे जितना-जितना पिया जाता रहे, वह मन में और-और पीते जाने की तृष्णा जगाता उसे सदैव अतृप्त्ता में अधीर बनाये रखता है.

****

अपूर्वा का समूचा बदन मेरे सामने संगमरमर की खूबसूरत नक्काशीदार ऐसी दूधिया मूरत की मानिन्द बिछी थी जिसे गुलाबी रंग में नहलाया गया हो. चित्त लेटी हुई अपूर्वा के बदन पर मैं पेट के बल पूरी लंबाई में सवार हो चला था. उसके पैरों की उंगलियों से लेकर उसके खूबसूरत चेहरे तक मेरा हर अंग अपूर्वा रानी के अंगों से चिपका था. उसके हाथों की अंगुलियों में मैने अपनी उंगलियां फंसाते हुए सिर के पार फैलाकर पूरी लंबई मे चिपक लिया था.उसका छोटा सा कोमल मुख बड़ा प्यारा लग रहा था जिसपर पतली नाक के नीचे बारीक लाल होठों की नाजुक फांक सजी थी. मेरे होठों उन होठों पर बेताबी से खेल रहे थे. हम दोनों में एक दूसरे के होठों को निगल जने की होड़ लगी थी.अचला की खू्बसूरत सुराहीदार गरदन को अपने गले से रगड़ता और जीभ से चाटता हुआ मैंने अपनी हथेलियों से उसके कन्धों को दबाया. अब म्रेरी निगाह अचलारानी के उन कोमल उभारदार संगमरमरी स्तनों पर पहुंची, जिनपर गुलाबी बेरियां सजी थीं. उन्हे अपने गालों से खिलाता बारी-बारी से होठों में दबाता मै चूसता हुआ हौले से यूं चबा जाता था किअपूर्वा रानी की सुरीली सिसकियां निकल आती थीं.

यह कहानी भी पड़े चूत चुदाई चंदा रानी की

” हाय, धीरे..” वह कहती और शरारत में उन्हे मेरे दांत और जोर से काट जाते थे. मेरे हाथ उस प्यारी के स्तनों को कसकर थामे पहाडी़ के तले से उसकी चोटी तक मालिश किये जा रहे थे. अपूर्वा रानी के बदन का खूबसूरत पहाडी़ दरिया हौले-हौले कांपता लहरें लेने लगा था. उसकी नाजुक गुलाबी एड़ियां मुझको नीचे उतरने का न्यौता दे रही थीं. गालों और होठों को मैने धीरे-धीरे नीचे उतारता हुआ मैं नदी की उस संकरी घाटी में पहुंच चला था जो मेरी रानी की बाईस इन्ची कमर थी. अपूर्वारानी के पुठ्ठों को दबाकर घेरते हाथों के पन्जों ने उसकी क्षीण कटि को खूब कसकर जकड़ रखे था और नाभि के दायें-बायें मचलते गालों के बीच मेरे ओठ

‘पुच्च-पुच्च..’ की ध्वनि के यौनत्तेजक स्वरों के साथ नाभि में डूब-डूब कर नहा रहे थे. काया की नदी में तरंगें उठीं.अपूर्वा की बाहों ने मेरी गरदन को घेरते मेरे माथे, मेरे गालों और फिर लबों को ताबड़-तोड़ ठीक वैसी ही आतुरता से चूम डाला. उसके कांपते हुए लबों का बेताब संगीत मेरे कानों में मिठास घोलता गुनगुना रहा था –

‘ आह, मेरे प्यारे प्रियहरि,…आह, तुम मुझे पागल किये जा रहे हो… मैं तुम्हारी दीवानी हो गयी हूं ….अब मुझसे रहा नहीं जा रहा है…मैं भीगी जा रही हूं.अपूर्वा की सांसें भारी हो रही थीं और उखडे़-उखडे़ स्वरों में वह मेरे कानों में बुदबुदाए जा रही थी-

‘ हाय मेरी किस्मत ….तूने मेरे मन के राजा से मिलाया भी तो कितने छोटे लम्हे के लिये…वो आती होगी …मेरे राजा..आज इस मौके को मै अधूरा नही छोड़ना चाहती.’

यह कहानी भी पड़े बीबी की कुँवारी सहेली की चुत मे लंड

अपूर्वा ने उठकर अपनी बाहों में भींचते हुए अपनी छाती में कसकर मुझे जकड़ लिया. धक्का देती मुझे धकेलकर उसने मुझे चित्त कर दिया था. उसकी फुर्ती की मन ही मन तारीफ

करता हुआ मैने कहा-

‘ मेरी प्यारी जंगली बिल्ली. मौका भले आज मिला है लेकिन ख्वाबों में तो तुम्हारी झाडी़ में उस लम्हे में ही घुस पडा़ था, जब पहली बार तुमसे मेरी आंखें टकराई थीं.’

‘हां, मुझे भी वह लम्हा हमेशा याद रहेगा.’

इस बीच मेरी प्यारी सुन्दरी अपूर्वा के हाथ मेरे तन्नाए हथियार को उसकी मूठ से उस चमकते तिकोने गोल सिरे तक खींच रहे थे जो अपनी लाली में लार टपकाता मचल रहा था.अपूर्वा बार-बार होठों से उसे चूमती नीचे से ऊपर तक जुबान फिराती प्यार से चाटे जा रही थी. इधर मेरी अंगुलियां अपनी रानी की बेदाग, चिकनी, पतली और सुडौल टांगों पर फिसलतीं नरम और ताजगी से चुस्त जंघाओं के बीच घुंघराली झाड़ियों में उस बारीक फांक को टोह रही थीं, जहां अपने आप को बडे़ जतन से घूंघट में छिपाये रानीअपूर्वा की लाल लचीली कोमल कली लजाती उस राजकुमार का इन्तिज़ार कर रही थी जो इस वक्त उसकी मालकिन की हथेलियों पर खेलता बार-बार दुलार से चूमा जा रहा था. मैने पास ही रखे जैम में अपनी उंगलियां डालते रानी की आंखों में झांका.

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2 3 4 5

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


xxx चोदाईचाची और बहन की चुदाईDelvre ki chot se aane ki khneyajab bur me mal chuta hai Aysha xxx video बाबुजी के धोती मे मोटा लंडAntarvasana.bhiga badan aur uncal se chudaiअन्तर्वासना .bua.ko.ghar.ki.bathroom.me.chodaaunty & uncal thulu dengu videosचूतटट्टी सेक्स स्टोरीज कॉमNukrani ki choot fadiसविता भाभी पढ़ा रही हैAnjan auntyki chudai sex kahani xxx picमाँ की सामूहिक चुदाईantrvaasna bhabhi ko कपडे बदलते देखासमधी से चुदवायानई सेक्स स्टोरी हिंदी ट्रैनkamwali ne malkin ke sath lesbian sex karna chahaमा कि गान्ड मे लोडेदेहाती मुस्लिम अन्तर्वासनाचूत चुदाईbagabahar sex vidyoपोर्न वीडियोस हिंदी बेथ पापा बोलते होkhushnuma ki chut or gand hindi sex kahaniHindi.azadlok kahaniसेकसी चुत लडलहान बहिणीची छोटी पुच्चीमैंने चुदवाई अपनी चूत tau ji seऔरत की चूत चाटके सेक्स videoशादी में गैर महमान से चुदाईtaiji ki chudai viagra khila ke दीदी की स्टेज सो में पैंटी देखिमाँ और मकान मालिक सेक्स स्टोरीजगुलाबी गांड़एक बार लौडा दे दे कमीनेलंड चुतmummy ne mere samane kapade badale hindi sex storyfarhin ki waterpark me chudai kahaniभाभी के चिकने पैरsex stories bhua ki papa ke sathek builder ne ki mere chudai kahaniचूत में लंडचुत mumbiwi ka dhudh pi ke chudai hindi sex storeeचूतchut ko land se chudaixbgrupsex कॉमचुस रहै है हिरोइन Sex videoTidatin pornWww xxx Bhabhi ne chudwayamms vidieo.comतैरना सिखाने के बहाने चुत कहानियाँ chudaibhanbhaiनोकर को दीदी को ठोकते देखाटूशन टीचर को बारिश म छोड़ाअंकल का 12 इंच का लंड चुत मेअब डालो न सेक्स हिंदी कहानीbewafa chachi ki kahanisexxxx muhbme lemavshi sex hidistorinoukari chahiye to biwi aur ma chudwani padegibhabhi ne tange kholkarkya land chatvaba chaiyeदादी की गाङ मारीMain meri maa aur karim hindi sex storyहसीं और अनुभवी मस्त औरत की सेक्सी स्टोरी हिंदीmaidm sa pyar stori xxxताऊ और माँ कि चुदाई खेत मेखाल्ला ने चुत चुदवाईचूतमौसि के chakkar me maa ko chod diya sex ki sachi kahaniya.inआंटी को कंडोम लगा के छोड़ा हिंदी स्टोरीmamme ne apne kmpne bos se chudwayasex stories taeji ki gaand salwar k upr se mareसुवागरात की मजा की कहानियाँhandi dipli pa chodi story xxx...अंकल बेटे मिली भगत माँ की चुदाईचाची को चोदा सेक्स स्टोरीFufa Aur mummyAntarvasna aunty dekh ke xossipमममी बोली की चुत ने मत झडनाChoti behan nimboo chuchi Bur Virya land आँखों से कोसों दूर थी। अचानक अरूण ने मेरी ओर करवट ली और बोले, “पानी दोगी क्या, प्यास लगी है !” मैं उठी और अरूण के लिये पानी लेने चली गई। वापस आई तो अरूण जग चुके थे और मेरे हाथ से पानी लेकर पीने के बाद मुझे खींचकर फिर से अपने पास बैठा लिया और अपना सिर मेरी गोदी में रखकर लेट गये। मैं उनके बालों को सहलाने लगी, मैंने देखा उनका लिंग मूर्छा से बाहर आने लगा था उसमें हल्की हलअन्तर्वासना १२ इंच के लुंड से माँ की गण्ड छुड़ाई ट्रैन में हब्सीसामूहिक merivasnakallu sexy bra bhabhi kahaniyaनोकर को दीदी को ठोकते देखामेरी नज़र उसके कांख पर थी और जैसे ही उसने अपने हाथ उठाए मैंने देखा storyPhim sex nhanh địt nhau như ăn cướpकरवा चौथ में चुदाई इन्सेस्टDo ghodi ek ghod swar sex story Hindiमेरे कमपुटर सेंटर पर मेरी बीवी की चुदाई देखी