मज़ा आने वाला है


Click to Download this video!

मेरा नाम शाम है। अब मैं आपको अपनी सच्ची कहानी बताने जा रहा हूँ। मैं गुजरात के एक शहर में रहता हूँ।
मेरा घर एक सरकारी कॉलोनी के पास है। मैं क़रीब २२ साल का था। तब मैंने कॉलेज की पढ़ाई पूरी की और अभी कोई नौकरी पर नहीं लगा था। तब मैं और मेरे दोस्तों ने मिलकर एक धंधा शुरु किया। जिसमें हम पास की सरकारी कॉलोनी, जहाँ पर सभी लोग बाहर से रहने आते थे, उनको यह पता नहीं होता था कि इस शहर में कौन सी चीज़ कहाँ मिलती थी, उन्हें हम उनके काम का सामान घर तक पहुँचवाने का काम करते थे, और इससे अच्छी कमाई होती थी।
अब मैं कहानी पर आता हूँ।
वैसे तो मैं और मेरे दोस्त बड़े ही रोमांटिक थे और वहाँ की औरतें भी काफ़ी सेक्सी होतीं थीं। मीना जो कि एक क्लास टू ऑफिसर की बीवी थी, उनकी शादी को अभी कुछ ही महीने हुए थे। वह देखने में बहुत ही सेक्सी थी। उसकी फिगर ३४-२८-३८ होगी। ऊँचाई क़रीब ५.८ होगी। मेरी नज़र पहले दिन से ही उस पर थी। ख़ास कर उसके चूतड़ों को देखकर मैं पागल ही हो जाता था। दिन में एक बार तो किसी न किसी बहाने से उसके घर चला ही जाता था। बहाना न हो तो भी मैं ‘कुछ चाहिए’, यह पूछने के बहाने चला जाता था। अक्सर उसका पति जो कि ऊँची पोस्ट के कारण सुबह ९:३० को चला जाता था और शाम को देर से आता था। तब से मैं यह ख़्वाब देखता था कब जा कर मैं इस को चोदूँ और हर रोज़ उस के ख्याल से मैं मुठ मारता था।
एक दिन की बात थी जब मैं कुछ सामान देने के बहाने उनके घर शाम को गया तब घर का दरवाज़ा खुला था। और मैं बिना थोक किए बिना ही घुस गया। मैंने देखा तो मीना सिर्फ ब्रा और पैन्टी में ही थी और आईने के सामने बैठकर तैयार हो रही थी। मुझे देख उसने कोई हरक़त नहीं की, ना ही अपने आप को ढँकने की, न ही घबराई। और मैंने जैसे शर्म आ रही है, ऐसा नाटक करते हुए सॉरी कह कर घर से बाहर जाने का उपक्रम किया।
उसने कहा- अरे तुम कहाँ जा रहे हो? तुम तो बड़े शर्मीले हो। क्या इससे पहले तुम ने कभी किसी औरत को इस तरह नहीं देखा है?
मैंने कहा- नहीं !
क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है?
मैंने कहा- है ! लेकिन मैंने अभी तक उसके साथ कुछ भी नहीं किया।
तो उसने पूछा- क्यों नहीं किया।
अब धीरे-धीरे वह मेरे बहुत ही क़रीब आ गई। मैं समझ गया इसके इरादे कुछ ठीक नहीं लगते। फिर मैंने भी मौक़े की नज़ाकत को जान के अपने एक हाथ को उसकी जाँघ पर और दूसरे को उसके कंधे पर रख दिया। वो तो जैसे इसी के लिए तैयार थी।
मैंने हिम्मत करके धीरे-धीरे उसकी चूचियों पर ब्रा के ऊपर से ही सहलाने लगा। मैंने पूछा कि आईने के सामने बैठी थी, कहीं बाहर जाने वाली हो क्या?
तो वह बोली- मुझे पता था कि तुम इसी समय आते हो तो मैं तुम्हार ही इन्तज़ार कर रही थी।
तो मैंने पूछा- तुमको कैसे यह पता चला कि मेरी नज़र तुम पर है?
तो इस पर वह हँस कर बोली- एक दिन तुम्हें मेरे बदन घूर कर देखते हुए देख लिया था ! तुम्हारे साहब रात को क़ाफी देर से आते हैं, हफ्ते में चार दिन वह शराब पी कर आते हैं और बाकी उनको नौकरी की टेंशन रहती है तो हमारे बीच में महीने में एक-दो बार ही सम्बन्ध बन पाते हैं। मैं कॉलेज के समय से ही खूब चुदक्कड़ रही हूँ, मेरी चूत प्यासी रहे यह तो मुझसे सहन नहीं होता। पहले दो महीने सामने वाले पटेल साहब का लड़का उसके साथ सेटिंग हुई, लेकिन फिर वह विदेश पढ़ने चला गया। इतने में तुम आए और मेरी नज़र तुम पर पड़ी, तब मैंने तुमसे चुदवाने का मन बना लिया था। लेकिन तुम मुझे कुछ इशारा ही नहीं देते थे, इसीलिए आज मैंने तुम्हें खुला इशारा देने का मन बना लिया था।
यह कह कर वह मुझसे लिपट गई। मैं भी जैसे तैयार था। पहले मैंने उसकी ब्रा को खोला और मेरे सामने थीं दो हरी-भरीं नारंगी। उसकी चूचियों की घुण्डियों का रंग हल्का गुलाबी था और मैं बस उसपर टूट पड़ा। फिर उसने मेरे कपड़े उतारना शुरु किया। अब हम दोनों पैन्टी-अन्डरवीयर में थे। हम दरवाज़ा बन्द करना भूल गए थे।
उसने कहा- तुम अन्दर बेडरूम में जाओ, मैं दरवाज़ा बन्द कर आती हूँ।
मैं अन्दर रूम में पहुँचा, तब मैंने देखा कि रूम अच्छी तरह से सजाया था और कोने की टेबल पर सेक्सी तस्वीरों वाली पत्रिकाएँ थीं।
मैंने कहा- ये तुम पढ़ती हो?
“मैं अपनी दोस्त से पढ़ने के लिए लेती हूँ।”
“कौन सी दोस्त? वो मिसेज़ पटेल?”
तो उसने कहा “हाँ।”
“वह भी तुम्हारी तरह मस्त और सेक्सी है।”
“पहले मेरी प्यास बुझाओ फिर मैं उसके साथ तुम्हारी सेटिंग करवा दूँगी।”
अब उसने कमरे का ए.सी. चालू किया। फिर वह मेरे क़रीब आई और मेरे लंड को जो कब से उसे देखकर बाहर आने को बेक़रार था को अन्डरवीयर के ऊपर से ही सहलाना शुरु कर दिया। इसके बाद उसने उसे उतार दिया।
मेरा लंड जो कि ८” लम्बा और ३” मोटा था, उसे देखकर बोली “आज तक मैंने इतना तगड़ा और लम्बा नहीं देखा है। आज तो बहुत मज़ा आने वाला है। आज मैं तुम्हें वह सुख दूँगी जो तुम्हें सपनों में ही मिलता होगा।”
यह कह कर वो मेरा लंड अपने हाथ में लेकर उससे खेलने लगी, फिर उसे अपने मुँह में लेकर लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी, साथ ही मेरे अंडकोष भी चाटने लगी।
मैंने कहा,”अब मुझसे रहा नहीं जाता, क्योंकि यह मेरा पहली बार है।”
“डार्लिंग यह तो शुरुआत है, आगे-आगे देखो होता है क्या!”
और वह घोड़ी बन गई और बोली,”बहुत दिन हो गए, मेरी किसी ने गाँड नहीं मारी। तुम मेरी यह तमन्ना आज पूरी करो।”
और सच में उसको जो पीछे से करने में जो मज़ा था वह अलग ही था। क़रीब १५ मिनट तक मैंने उसको पीछे से ही शॉट्स मारे। फिर वह सीधी हुई और मेरा मुँह अपनी चूत के पास ले गई, और मैं उसे चाटने लगा। मेरा एक हाथ उसकी दाईं चूची को दबा रहा था। अब हम 69 की मुद्रा में आ गए। वह काफी उत्तेजित हो चुकी थी और मुझे ज़ोर-ज़ोर से चूम रही थी। मैं भी बहुत जोश में आ गया था।
अब उसने कहा कि अब मुझसे रहा नहीं जाता, चोदो मुझे।
फिर मैंने अपना लंड जो कि बहुत ही तड़प रहा था, उसकी चूत पर रख दिया और धक्का दिया। मेरा ४” उसकी चूत में जा चुका था और वह सिसकियाँ लेने लगी। फिर मैंने दूसरे धक्के में पूरा लण्ड उसकी चूत में डाल दिया। मुझे उसकी चूत की गरमी का अहसास पागल बना रहा था।
अब मैंने थोड़ी रफ्तार बढ़ाई, तो उसने भी कहा- और ज़ोर से, और तेज़। बस मुझे चोद दो।
और मैं साथ-साथ उसके पूरे गोरे बदन का मज़ा ले रहा था। कभी उसके होंठ, तो कभी-कभी उसकी चूची चूस कर। बस फिर क्या था, वह झड़ गई और मैंने भी कहा – मैं भी झड़ने वाला हूँ !
उसने कहा- तुम अन्दर मत झड़ना, मैं तुम्हारा रस पीना चाहती हूँ। तब मैंने अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाल लिया और उसके मुँह पर पिचकारी मारी, उसने सारा पानी पी लिया।

यह कहानी भी पड़े मेरी चाची बड़ी निकम्मी--2
error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


दोस्त को हस्तमैथुन करना सिखायामाँ की गांड को अपनी जीभ से चाटमाँ की चुदाई की ठंडी रजाई मेबाड़मेर से चुदाई कहानीBhabhi ke sath dhokha Viagra lund chut gandPhim sex địt nhau nhanh như ăn cướpantarvasna samdhi jiमाँ को घोड़े पर बिठा कर चोदाpadosi ladki antervasna rajayiगांड मारीबुबस को दबाकर लाल कर दिएदीदी bivi ke kapdey pehnaker चुदाई kahaniyaरिश्तों में चुदाई की हिंदी सेक्सी कहानियाँकच्ची जवानी सैक्स स्टोरीमाँ को नंगा नहाते देखा बीटा हिंदी कहानीबेताब जवानी सेक्सी स्टोरीIncest chudaiki suruatहाये रे मार डालेगा क्या sex kahanighasai wali video sexआंटी ने मेरे साथ अपनी सुहागरात मनाईचुदाईchoudashi haus waif .com kahanichorni ki hindi sex khaniyaSasurji ne chuchi dabai khet me sexy storiesmai apani maa ki gand ka divanaरहम मत कर, तू मुझे एक रंडी की तरह चोद,माँ की चुदाई की ठंडी रजाई मेअपने दोस्त की माँ को चोदाusne chudwakar chut dilwaichachera bhai Milne Aaya hindi part 2kiraye pr makaan dene k chudaai ki kahaaniमेरी जब आँख खुली तो देखा कि मैं अस्पताल में था hindi sex storsexy stories karwa choth hindiMaa ki chut me icecream incest sex storyदीदी जीजाजी मॉम डैड की चुदाई स्टोरीजबाबा हिंदी सेक्स स्टोरीpappih saxy vidioboor se pesab sex storiesचुदवाईनौकर ने दोनों लड़कियों को चोदालंडnaye shohar se chudimajor sahb deenu pani kitchenहिन्दी सेक्स कहानी मामा जी से चोदलडकी चुतAntrvasna facebook Parptaबाजी की ऊँगली मेरे लंड पर टच होचोदाई विडीयो अछसेma ko pairdaba ke choda kahaniअमी को ईद पर चोदाचोदकर पेट से कर दियाGuda dvaar me jibh se sex storiटयुशन के सर ने मेरीmajdor ka land chusa hindi sex storyMummy ki bra ki hook lagakr chudai kimeri chachi ne naukrani ka intjam kiyasamuhik sabis sex hindi historyआंटी को कंडोम लगा के छोड़ा हिंदी स्टोरीsamuhik sabis sex hindi historyKhun vali chudaichudne ko tadapti storiesमां को बेटे से चुदाने की इच्छा हिंदी सेक्स स्टोरीचुतकी सीलमाँ की गांड को अपनी जीभ से चाटXxx story in hindi maa banayasadi suds Badi Didi ko Gand Mar storyfak mi yes ohh aaa सेक्स स्टोरीदोस्त को हस्तमैथुन करना सिखायानदी किनारे सेक्स स्टोरी हिन्दीmangalsutra bra antarvasnaबाड़मेर से चुदाई कहानीमममी बोली की चुत ने मत झडनाXnxx pim han quocबुआ के साथ शेकश कहानी//buyprednisone.ru/behen-ko-randi-banaya/5/बड़े लड़ से गैर मर्द से चुदाई कहानीचूत फडवाई बरसात मे हाँस्टलमेरे सामने sex storyजाति लडकी कि खेत मे चुदाईपापा ने रात को चोदाsex100%vetnambiwi chudi builder se in hindi sex kahaniyaहस्बैंड स्वैपिंग की चुदाई की कहानियाँ हिंदीमम्मी की ब्लैक पंतय हिंदी सेक्स स्टोरीरोज तुझसे चुदवाऊँगी