पति की सहमति से परपुरुष सहवास-2


Click to Download this video!

आरती और जसवंत पूरी तरह झड़के शाँत हो गये पर जसवंत अब भी आरती के जिस्म पे लेटा हुआ था और जसवंत ने पूरा लंड आरती की चूत में घुसाया हुआ था। जब जसवंत भी ढीला पड़ा तो आरती की चूत से उन दोनों के चुदाई-रस का मिश्रण हल्के-हल्के बाहर आने लगा। दिल की धड़कन शाँत होने के बाद जसवंत आरती की चूत से लंड निकाल के उसकी बगल में लेट गया। जसवंत आरती को चोद चुका था और दोनों बेहाल पड़े थे। १५- २० मिनट के बाद आरती जसवंत की बाहों में आयी और बालों से भरा जसवंत का सीना हल्के हाथों से सहलाने लगी। जसवंत भी करवट लेके आरती के मम्मे मसलने लगा। फिर आरती का हाथ अपने लंड पे रखते हुर जसवंत बोला, “मेरी जानेमन… अब भी मेरा दिल भरा नहीं है… मेरा लंड फिरसे तुझे चोदना चाहता है… ज़रा मुँह में मेरा लंड लेके उसे गरम कर… ताकि फिर तुझे चोदूँ।” आरती उठके जसवंत का पूरा लंड अच्छी तरह चाट के बोली, “मेरी चूत के राजा.. तूने मुझे इतना तगड़ा चोदा कि मज़ा आ गया पर अब मेरी चूत भी दोबारा चुदाई के लिए तड़प रही है। लेकिन थोड़ा सा रुक जा फिर फ़्रैश होके मुझे चोद… वैसे भी मुझे मंगल से भी चुदवाना है। मेरी बेटी भी तो देखे कि उसकी माँ कैसे चुदासी बन के चुदवाती है।” जसवंत आरती के निप्पल हल्के से खींचते हुए बोला, “बड़ी हरामी चूत है तू… साली… तो अब मुझसे नहीं चुदवाना है… लेकिन मंगल से बेटी के सामने चुदवाना चाहती है तू… बहनचोद तेरी जैसी बेशरम औरत नहीं देखी मैंने… ठीक है चल देखते हैं तेरी मादरचोद बेटी का क्या हाल किया है उस मंगल ने।” इस कहानी का शीर्षक ’आरती की वासना’ है!

आरती के चुदाई के नशे की तरह ही उसका शराब का नशा भी कम नहीं हुआ था। जसवंत लड़खड़ाती हुई नंगी आरती को लेके हॉल में आया। उन्होंने देखा कि मंगल पूजा को कुत्तिया बनाके अब उसकी गाँड मारने के तैयारी में है। दोनों बेशरम माँ बेटी एक दूसरे को देख के मुस्कुराईं। माँ और बेटी आपस में खुल चुकी थीं इसलिए दोनों में से किसी को भी शरम नहीं थी। आरती पूजा के सामने जाके उसे किस करने लगी। मंगल तब पूजा की गाँड पे अपना लंड ज़ोर ज़ोर से रगड़के बोला, “साली रंडी की छिनाल बेटी… आज तू सही मायने में रंडी बनेगी। साली राजेश और वैभव तुझे बराबर चोदते हैं तो फिर हमसे क्या झिझक…? तेरी माँ की चूत पूजा… आज के बाद तू मेरी रंडी बनके रहेगी और तेरी छिनाल माँ जसवंत सर की… समझी?” जसवंत पूजा के मम्मे मसलते हुए ललचाती नज़रों से पूजा को देखते हुए बोला, “क्या मंगल अब तक तूने पूजा को चोदा नहीं? बहनचोद मैंने तो आरती को चोद भी दिया और अब दूसरे राऊँड की तैयारी करने आया था। यह बहनचोद आरती अब तुझसे अपनी बेटी के सामने चुदवाना चाहती है।” इसके पहले कि मंगल कुछ जवाब देता, आरती पूजा के मम्मे मसल रहे जसवंत के हाथ को हल्के से मारते हुए हँसते हुए बोली, “साले कमीने… तूने अभी इस पूजा की माँ को इतनी चोद-चोद कर रंडी बना दिया… अब फिर बेटी को देख रहा है… हरामी जितनी कमीनी मुझे बोलता है… उतने ही कमीने तुम दोनों हो।”

यह कहानी भी पड़े सरिता आंटी की चुदाई

आरती और जसवंत की बात सुनके मंगल ने पूजा को छोड़ा और आरती को धक्का देके सोफ़े पे गिराते हुए खुद सोफ़े पे चड़ गया और अपना लंड उसके मुँह में डालते हुए बोला, “छिनाल चूत… बहनचोद… साली एक तो तुझे हमने अपनी रंडी बनाया और हमको ही कमीना बोलती है? कुत्तिया… साली बेवड़ी… नशे में अपनी औकात मत भूल… तू और तेरी बेटी हमारी रंडियाँ हो। तुझे सर चोदने के लिए ले गये तब तेरी बेटी की चूत मैंने मारी और अब गाँड मारने जा रहा था। अब तू आयी है तो तुझे भी चोदके अपनी रंडी बनाऊँगा और जसवंत सर पूजा को चोदके उसे अपनी छिनाल बनायेंगे।” जसवंत नंगी पूजा को अपनी गोद में बिठा के उसके बदन से खेलते हुए आरती से बोला, “हरामज़ादी राँड… तेरी बेटी भी एकदम जवान और हसीन है… वैसे तुम माँ बेटी नहीं बल्कि एक दूसरे की बहन लगती हो… देख तेरी मादरचोद बेटी कैसे अपनी गाँड मेरे लंड पे रगड़ रही है। पूजा… तेरी माँ की चूत… मादरचोद चूत… तेरी माँ को मंगल कुत्तिया बनाके उसकी गाँड मारेगा… तू सोफ़े पे बैठके अपनी माँ के मम्मे मसलेगी और तेरी छिनाल माँ तेरी चूत चाटते हुए अपनी गाँड मरवायेगी और तू… हरामी मादरचोद रंडी… मेरा लंड चूसेगी… समझी?” पूजा यह सुनके खुश हुई कि उसकी माँ उसकी चूत चाटने वाली है और वो तुरँत हाँ बोली। जसवंत पूजा को खड़ी करके बोला, “मंगल की रंडी… अब चल तू आ मेरे साथ।” जसवंत पूजा को पकड़के मंगल और आरती के पास ले गया और उसे सोफ़े पे बिठा के उसकी टाँगें खोल दीं। फिर आरती को कुत्तिया जैसी झुका के उसका सिर पूजा की चूत पे दबाते हुए जसवंत बोला, “सुन पूजा रंडी… तू अपनी माँ के मम्मों से खेल… तेरी यह रंडी माँ तेरी चूत चाटेगी और पीछे से मंगल तेरी माँ की गाँड मारेगा। मैं सोफ़े के पास खड़ा रहूँगा और तू मेरा लंड चूसेगी… समझी…? चल मादरचोद अपनी माँ के मम्मे मसलने शुरू कर।”

आरती बिल्कुल वैसा ही करने लगी जो जसवंत कह रहा था। अब कमरे में दृश्य ऐसा था कि मंगल धीरे-धीरे करके अपना लंड आरती की गाँड में घुसाते हुए उसे चोद रहा था और आरती अपनी गाँड मरवाती हुई झुक के अपनी बेटी की चूत चाट रही थी। पूजा अपनी माँ से अपनी चूत चटवाती हुई आरती के मम्मों से खेल रही थी और साथ ही जसवंत का लंड भी चूस रही थी। जसवंत पूजा का मुँह चोदते-चोदते पूजा के मम्मों से खेल रहा था। बड़ी बेरहमी से वो दोनों मर्द इन माँ बेटी की गाँड और मुँह चोद रहे थे। आरती बेशरम होके अपनी बेटी की चूत चाट रही थी और पूजा भी मस्ती से उसके मम्मे मसल रही थी। मंगल आरती की कमर पकड़के गाँड में ज़ोरदार धक्के मारते हुए बोला, “आहह… आरती तेरी गाँड तेरी बेटी जैसी लाजवाब है… साली जब तुझे जसवंत सर के ऑफिस में जाते देखा था तबसे तुझे चोदने की तमन्ना हुई। उस दिन सर के ऑफिस में तेरी गाँड मारी तब मुझे सकून मिल… लेकिन जबसे तेरी बेटी को चोदा तबसे लंड को आराम ही नहीं मिलता। बहनचोद क्या मस्त रंडियाँ हो तुम माँ बेटी।” आरती पूजा की चूत चाटती हुई मंगल से पूरा लंड ले रही थी गाँड में। पूजा भी अब जोश में अपनी माँ के मम्मे मसलती हुई जसवंत का लंड चूस रही थी।

यह कहानी भी पड़े दोस्त की पड़ोसन लड़की की ठुकाई

जसवंत आगे पीछे करते हुए पूरा लंड पूजा के मुँह में डालके उसे चोदते हुए बोला, “साली पूजा… रंडी की औलाद… तू भी अपनी माँ जैसी ही मस्त लंड चूसती है। आरती पहले तेरे मर्द ने और कोई अच्छा काम किया हो या नहीं पर साले ने तेरी जैसी गरम बीवी और पूजा जैसी कम्सिन चूत हमारे लिए यहाँ छोड़के जाने का अच्छा काम किया है। क्या मस्त गरम बेटी पैदा की है तुम पति-पत्नी ने… साली आगे जाके तेरी बेटी तेरा नाम रोशन करेगी। मेरा लंड चूस छिनाल और अपनी माँ को मंगल से गाँड मरवाते भी देख।” इन माँ बेटी के साथ वो दो मर्द बेरहमी से पेश आ रहे थे लेकिन यह बेरहमी उन माँ बेटी को अच्छी लग रही थी। सब गालियाँ और बेइज़्ज़ती उन्हें और चुदास बना रही थी और वो माँ बेटी बेशरम हो के अपना बदन उनसे चुदवा रही थीं। इस कहानी का शीर्षक ’आरती की वासना’ है!

मंगल आरती की गाँड मारने के साथ-साथ उसकी गीली टपकती चूत में अँगुली रगड़ रहा था और आरती भी मस्ती से गाँड में मंगल का लंड ले रही थी और टाँगें फ़ैला के उसकी अँगुली से अपनी चूत को भी चुदवा रही थी। आरती दोनों हाथों से पूजा की कमर पकड़के अपनी कम्सिन जवान बेटी की चूत का पानी बड़ी प्यार से चाट रही थी। पूजा की चूत के दाने को हल्के से चबाती हुई आरती पूजा को और गरम कर रही थी। साँस लेने के लिए उसने मुँह पूजा की चूत से हटाया और बोली, “हम माँ बेटी के यारों… आज मेरी प्यारी बेटी और उसकी रंडी माँ को इतना चोदो कि पूजा राजेश और वैभव को भूल जाये और मैं अपने बाकी यारों को। जब चाहो पूजा रंडी को कॉलेज में चोदना और जब दिल करे तो घर आके इस अपनी रखैल रंडी आरती को चोदना। तुम दोनों इसको चोदते रहोगे तो यह इधर उधर नहीं जायेगी, कॉलेज में अटेंडैंस और पढ़ाई भी इम्प्रूव करेगी और चूतिया लड़कों से अपनी जवानी बर्बाद नहीं करेगी।”

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2 3 4

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


हिंदी सेक्से स्टोरी सिस्टर को बालकोनीantervasna khani ke sath ladki ne phone namber daleचूतभूरीboss ne aunty ko daboch liya sex stories chudvaya sfr melambe balo wali doli ko choda sex storyमम्मी की,मस्त चूदाईमा कि गान्ड मे लोडेतीनों से रंडी के तरह चुदविधवा बहन ने भाभी के ऊपर दया storiesमोठी पुच्चीduur se chudwate dekha sex storydildo sai gand chudai sax storyचूतmere pindliyo ko choomne lagaprison anti ki mjedar chudae ki khani hindi meअन्तर्वासना भाई बहन दारू पी केबूब मस्ती इन बस स्टोरी इन हिंदीसहलाने लगाnokrani ki tino betiyon ki chudaiबाजी की ऊँगली मेरे लंड पर टच होबुबस को दबाकर लाल कर दिएchudai seksiGermard ki bahome sex story Hindi rajai me chhoti ladki se chudai ki kahaniyaसुहागरात me chuda part 4मौसी थोड़ा ऊपर बैठी थी जिससे उसकी चूत से निकली पेशाब की धार दिखाई दे रही थीtantrikne choda muje or meri betiko sex storyपत्नी को जमके चोदाहोल में बीबी की छुडवाया कहानी कॉमगँदि कहानिमाँ ने तेल डाला लंड परछोटी बहन रेखा चोदOxssip incest story.commai hu anjali chudai storytau ki ladki ko us k sasural me sex storyxxx story hindi train me chooti bahen ko goad me baithayपत्नी समज के छोटी बहन की चुदाई स्टोरीmavshi sex hidistori//buyprednisone.ru/train-mai-chudai-ki-kahani-11/odia bhujo suhagrat storymaa ki chut me ice-cream sex storie बहु बुर में ऊँगली कर रही थी और झडती जा रही थीचूतमेरा लंड सिकंदर बड़ी साली की चूत के अन्दर-4Gaw ke dehati kam umra wale schooli ladki ke garma garam chodai ke kahaniहरामी औरत लनड चोद बिडियोUsha ki bhabi ko ptakr choda storysexy besharam biwi katha आँखों से कोसों दूर थी। अचानक अरूण ने मेरी ओर करवट ली और बोले, “पानी दोगी क्या, प्यास लगी है !” मैं उठी और अरूण के लिये पानी लेने चली गई। वापस आई तो अरूण जग चुके थे और मेरे हाथ से पानी लेकर पीने के बाद मुझे खींचकर फिर से अपने पास बैठा लिया और अपना सिर मेरी गोदी में रखकर लेट गये। मैं उनके बालों को सहलाने लगी, मैंने देखा उनका लिंग मूर्छा से बाहर आने लगा था उसमें हल्की हलGarwali sexy kahnibra aur painti se pyaar sex storiy hindiचूत के छेद में मोटा सुपाड़ाबीबी और उसकी सहेली की चुदाई की कहानीएक अनोखा संयोग 2 sex stories hindi ghar me maa didi bua ke dildo se chudai kahaniAntrwasna maa bete ka randipan indan sexमममी बोली की चुत ने मत झडनाNew sexi story कमलाचूतमवशी बेटा की सेकसी बिडीवभाभीने घरी बोलवून ठोकून घेतले sex vidro टूशन टीचर को बारिश म छोड़ाभाभी ने गाँड कि गपागप चुदाईsex story mere प्यारे डैडी part 3दीदी का लाड़ला से उनका पति बना सेक्स स्टोरीजआआआआहह।मम्मी को बेटे ने 11इच के लौडे से चोदा सेकस ईटोरीsadi suds Badi Didi ko Gand Mar storyक्यों चोदू तुम्हे कहानीhindi aabaj gali chudai saf.xxx.commai nahi jhel paugi itna lumba.chudaiabhaghani sex videobeta dard ho reha hi hindi sex khaniyasexkahanisalwarmetro cudayi karte huai videonanhi jaan antarvasnaमेरी सुहागरातriston main hairy chudai in hindi sex kahaniyastory sex बहाना बनाकर maa keचुतद करनाfimsex vangorgmeri.rani.choot.me.land.lo.desiचाची की अन्तर्वासनाचुदाइ किकहानिsexkhaniya hindi rishto mainनौकर ने दोनों लड़कियों को चोदाआयशा की गांड चुदाईsex bideo bhai ne bahen ko patk ke chudai ki dabkemere stress ko brte ne mitaaya chudai storyTenish bhol sex xxx v comsage risto me chudai antarvasna sex storyसेक्स stories बाथरूम में माँ ko नाहटा dikhaमैँ औरमेरा भाईचुदाई हि कयात्रा ki आप बीती sexy kahaniyadimpl sali ki sex storyTrain main anjan ladki ki chudaichachera bhai Milne Aaya hindi part 2चूतचुदाई बहन की शादी मे