रंडी माँ का खेत में ग्रुप सेक्स


Click to Download this video!

फिर जब लंड पूरी तरह से तनकर अपने असली रूप में आया तो उस लंड के आकार को देखकर मम्मी एकदम घबरा गई और उनके माथे से पसीना आने लगा था। वो कहने लगी कि यह जब इतना मोटा है कि मेरी मुठ्ठी में इसका आना ही मेरे लिए इतना दुखदाई है। फिर तो यह आज मेरी चूत में जाकर चूत को फाड़ ही देगा, में इसको कैसे अपने अंदर ले सकती हूँ। में तो इससे मर ही जाउंगी और पता नहीं यह अंदर जाकर मेरी चूत को कितनी जगह से जख्मी करेगा? इसको देखकर तो मुझे लगता है कि अगर तुमने तेज धक्का दिया तो यह मेरी चूत से होता हुआ मेरे मुहं में ना निकल जाए, ऐसा लंड मैंने आज पहली बार देखा है और तुम यह चुदाई रहने दो और ऊपर से ही अपना मन भर लो। फिर रवि मम्मी को समझाते हुए बड़े प्यार से कहने लगी कि भाभी क्यों तू इतना नखरा नाटक करती है, जैसे यह तेरी कुंवारी चूत हो और वैसे भी थोड़ा सा दिमाग लगाकर सोच जब तेरी चूत ने एक इतना बड़ा बच्चा बाहर निकाल दिया है तब तो यह नहीं फटी तो एक इतने छोटे लंड से यह कैसे फट जाएगी? में वैसे भी धीरे धीरे करूंगा, तू बस आराम से चुदाई के मज़े लूट और हमें भी अपनी चूत के मज़े लेने दे क्यों तू हम तीनों का समय खराब करती है अब तक तो हमारी एक चुदाई खत्म भी हो जाती।

फिर थोड़ी देर तक वो तीनों खड़े रहकर एक दूसरे के जिस्म को गरम करके जोश में लाते रहे और एक मेरी मम्मी के बूब्स को मुहं में लेकर चूस रहा था, बूब्स को सहला भी रहा था और दूसरा अपने हाथ को तीन उँगलियों को एक साथ चूत के अंदर डालकर लंड के जाने का रास्ता साफ कर रहा था और कुछ देर यह सब करने के बाद रवि ज़मीन पर एकदम सीधा लेट गया। फिर उसके बाद मम्मी उसका इशारा समझकर उसके ऊपर बैठ गई और फिर वो अपने एक हाथ से रवि के लंड को अपनी चूत के छेद पर रखकर धीरे धीरे अपने शरीर को नीचे करते हुए उसके लंड को अपनी चूत के अंदर लेने लगी और साथ ही मम्मी के मुहं से दर्द की वजह से चीख निकलने लगी, लेकिन फिर भी मम्मी रवि का पूरा लंड अपनी चूत के अंदर जाने के बाद ही रुकी और फिर पूरा लंड अंदर चले जाने के बाद थोड़ा आराम करके मम्मी अपनी चूत को उसके लंड पर रगड़ने लगी और वो आह्ह्हह्ह आह्ह्ह्ह की आवाज़े करने लगी। अब रवि ने मम्मी के दोनों कूल्हों को अपने दोनों हाथों से पकड़कर पूरा फैला दिया और उसने अपनी कमर को ऊपर उठाकर झटके देने शुरू कर दिए जिसकी वजह से वो लंड मुझे अपनी मम्मी की चूत में अंदर बाहर होता हुआ साफ साफ नजर आ रहा था और इधर मेरे चाचा ने अपने लंड पर बहुत सारा थूक लगाकर उसको बिल्कुल चिकना कर लिया था और वो अपने लंड को एक हाथ में लेकर सहला रहे थे।

यह कहानी भी पड़े प्यास बुझाई बगल वाली भाभी की

अब चाचा मम्मी के ऊपर चड़ने लगे, तभी मम्मी को जो अब उनके साथ इसके बाद होने वाला था उसका शक हुआ और वो बहुत डरकर कहने लगी नहीं रमेश एक साथ नहीं इसकी वजह से मेरी चूत और गांड दोनों फट जाएगी, तुम ऐसा मत करो पहले एक का काम खत्म हो जाए उसके बाद दूसरा अपना काम शुरू करो, लेकिन चाचा तो मेरी मम्मी की वो सभी बातें सुनकर हंसने लगे और वो बोले कि भाभी शुरू में आपको थोड़ा सा दर्द तो पहली बार जब चुदी थी तब भी हुआ होगा, लेकिन अब तो आप रोज ही अपनी चुदाई करवाकर मज़े लूट रही हो तो आज एक बार में दो लंड से एक साथ चुदने का भी आप मज़ा ले लो और इस चुदाई के बाद तो आप गाँव के सारे मर्दो से ग्रुप में अपनी चुदाई करवाने के बारे में भी विचार बनाने लगोगी और तुम्हे हमारी यह चुदाई अपनी पूरी जिंदगी याद रहेगी। फिर चाचा ने मम्मी से इतना कहते हुए ही अपना तनकर खड़ा चमकता हुआ लंड मम्मी की गांड के छेद पर रख दिया। मुझे मम्मी के वो पहले से ही फैले हुए कुल्हे ठीक तरह से दिखाई दे रहे थे।

अब चाचा ने हल्का सा अपने लंड से गांड को झटका दे दिया, जिसकी वजह से लंड का चिकना टोपा फिसलकर गांड में चला गया और मम्मी दर्द की वजह से चीखने लगी और वो अब उनकी पकड़ से छूटने की कोशिश करने लगी और वो दर्द से बिन पानी की मछली की तरह छटपटा रही थी और अपनी गर्दन को बार बार इधर उधर घुमा रही थी, क्योंकि उन दोनों लंड ने एक साथ गांड, चूत में जाकर मम्मी के पूरे जिस्म में आग लगा दी और दोनों लंड एक साथ हल्के हल्के धक्के देकर अपना काम कर रहे थे, जो मम्मी के लिए बड़ा दुखदाई साबित हो रहा था। फिर नीचे से रवि ने मम्मी की उछलकूद देखकर उसकी कमर को कसकर पकड़ लिया और ऊपर चाचा लेट गये, इसलिए मम्मी अब सिर्फ़ दर्द से छटपटा सकती थी और उनका उन दोनों के बीच से निकलना बड़ा मुश्किल था। अब चाचा ने एक ज़ोर का झटका दिया तो चाचा का लंड मम्मी की गांड को फाड़ता हुआ जड़ तक पूरा समा गया और मम्मी दर्द की वजह से रोने लगी, लेकिन उन दोनों पर कोई भी फ़र्क नहीं पड़ रहा था और अब उन दोनों ने धक्के देकर चोदना शुरू कर दिया। मुझे मेरी मम्मी की चूत और गांड में एक साथ उन दोनों के लंड चुदाई करते अंदर बाहर जाते हुए दिखाई दे रहे थे और उन धक्को से मम्मी की चीखे भी तेज हो रही थी और उसकी जगह अब मम्मी की आहें बढ़ रही थी और करीब पांच मिनट के बाद मम्मी भी अपने दर्द के कम हो जाने के बाद पूरे जोश में आकर उनके धक्को के साथ अपनी कमर को हिला रही थी। अब मम्मी अपने दोनों हाथों को पीछे लेकर गई और उन्होंने अपने दोनों कूल्हों को और भी फैलाकर पकड़ लिया, जिसकी वजह से चाचा का लंड अब और भी तेज़ी के साथ अंदर बाहर होने लगा और फिर चाचा ने कुछ देर धक्के देने के बाद ज़ोर की आवाज़ करते हुए अपना वीर्य मम्मी की गांड में निकाल दिया और फिर वो धीरे धीरे अपनी कमर को हिलाकर शांत होने लगे।

यह कहानी भी पड़े विनीता आंटी की चूत चुदाई की कहानी

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2 3 4

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


chudai इजाजत दी पति नेSexstory vidwabhabhi pragnent Xxx vidio mom अनकंट्रोलकसी गांड़बेटी की घमासान की चुदाई की कहानीससुर के साथ दुसरी सुहागरातMaa ne bete ko bnaya choot ka gulam hindi sexy khaniबीबीचुतAntrvasna facebook ParptaWww raj sarma sex stories hindi com चुतजवानी की चूत की फोटोचूत चोदना चुदाई खाना2018की भाभी की बस के सफर मे चुकाई की कहानियाXXX SHCHI TAUR VIDEO COM सविता भाभी पढ़ा रही हैमामी जी फौज मे मामी चुदाईपडोसन आटी की मादकता और चुदाई mammi ko hum sabane milke chodasexy bicany kgaridi storyदीदी की बुरमेरी सेक्सी कहानी होटलantarvasna Hindi sex story gundo ne chodaमाँ ने बेटी चुदाईएक बार पूरा घुसा दे लौडा कमिने कहानीअपने से आधी उम्र की से सेक्स स्टोरीजladki ki sexy hindh storyमाँ की गाङ मारीma kamla ki gand ka dewana uska he beta bhabhi sexy storiessixy hinde Kahani shijal kiपहले बहन को फिर माँ की प्यास बुझाईmalkin ki chudaiसेक्सी चूतChut me badi muskil se ghusaमम्मी को अंकल चोदने वाले थेDildo wali bhabhi lmbi chudai khaniमामी का दूध पियाSuman ki chudi xxx hindi khanixxxsarifचुत फटी दर्द हुआठाकुर का खेत और उसकी बहु गंदी चुदाईsexy stori mommy ne tiren me gurup chudai ki xxxमेट्रो में मोटा लुंड गांड में लिया क्सक्सक्स सेक्स स्टोरीचाचा भतीजी चुदाई पैँटीchuse meri land bhenchodबुआ चुदाईचची की पेटीकोट का नाड़ामाँ की गांड को अपनी जीभ से चाटअन्तर्वासना हिंदी ट्रैन मwww.maa bahen maa bani new antarvasana. comकमला मेरी बहन incestसेक्स स्टोरी अब्बू से मैंनेaunty ki chudai me cockroach ghus Gaya Hindi sex storyxxx ladki ne siskari bharkar chudwai xxxdesi pabhi hanjra wali pabhisex Anjan auntyki chudai sex kahani xxx picphopha sasur sex storytrean mom antarvasnaPeso k badle chudai hindi sex kahanidalisexstorieHindi shayari sex gadraya Badan आँखों से कोसों दूर थी। अचानक अरूण ने मेरी ओर करवट ली और बोले, “पानी दोगी क्या, प्यास लगी है !” मैं उठी और अरूण के लिये पानी लेने चली गई। वापस आई तो अरूण जग चुके थे और मेरे हाथ से पानी लेकर पीने के बाद मुझे खींचकर फिर से अपने पास बैठा लिया और अपना सिर मेरी गोदी में रखकर लेट गये। मैं उनके बालों को सहलाने लगी, मैंने देखा उनका लिंग मूर्छा से बाहर आने लगा था उसमें हल्की हलboss ne aunty ko daboch liya sex stories anterwaanabahen ki chudai nahaya sex story writtenBoy frend kee डिलडो से गाड मारी AntarvasnaDost ke ma kud chude hindi storysareef larki sexy Kahaniबुर सूज ठीक से चल कसी रगड़Hindi sexi kahaniya bhai bahen ki adla badli jija k sathwww.दीदी की चूत में बॉस लंड का वीरय