ट्रेन यात्रा मे चुदाई की कहानी


Click to Download this video!

train mai chudai ki kahani ये बात लगभग १ साल पहले की है. हमारे रिश्तेदारी में किसी की डेथ हो गई थी. मेरे पति अपने काम धंधों में व्यस्त थे इसलिए मुझे ही वहां जाना पड़ा. ट्रेन का सफर था और मुझे अकेले ही जाना था इसलिए मेरे पति ने प्रथम श्रेणी एसी में मेरे लिए रिज़र्वेशन करवा दिया था.

रात को दस बजे की ट्रेन थी. मुझे मेरे पति स्टेशन तक छोड़ने के लिए आए और मुझे मेरे कूपे में बिठा कर टिकेट चेकर से मिलने चले गए. मेरा कूपा केवल दो सीटों वाला था.

अभी तक दूसरी सीट पर कोई भी पेसेंजेर नहीं आया था. मैंने अपने सामान सेट किया और अपने पति की इंतज़ार करने लगी. थोडी ही देर में मेरे पति वापस आ गए. उनके साथ ब्लैके कोट में एक आदमी भी आया था. वो टिकेट चेकर था. उसके उम्र करीब छब्बीस साल की थी, रंग गोरा और करीब पौने छह फीट लंबा हेंडसम नवयुवके लग रहा था. मेरे पति ने उससे मेरा परिचय करवाया. वो आदमी केवल देखने में ही हेंडसम नहीं था बल्कि बातचीत करने में भी शरीफ लग रहा था.

उसने मुझसे कहा

” चिंता मत कीजिये मैडम मैं इसी कोच में हूँ कोई भी परेशानी हो तो मुझे बता दीजियेगा मैं हाज़िर हो जाऊंगा. आपके साथ वाली बर्थ खाली है अगर कोई पेसेंजर आया भी तो कोई महिला ही आएगी इसलिए आप निश्चिंत हो कर सो सकती हैं.”

उसकी बातों से मुझे और मेरे साथ साथ मेरे पति को भी तसल्ली हो गई. ट्रेन चलने वाली थी इसलिए मेरे पति ट्रेन से नीचे उतर गए. उसी समय ट्रेन चल दी. मैंने अपने पति को खिड़की में से बाय किया और फिर अपने सीट पर आराम से बैठ गई. दोस्तों मुझे आज अपने पति से दूर जाने में बिल्कुल अच्छा नहीं लग रहा था. इसका कारण ये था कि मेरी मौसी हवारी ख़तम हुए अभी एक ही दिन बीता था और जैसा कि आप सब लोग जानते हैं मेरी जैसी चुदक्कड़ औरत की ऐसे दिनों में चूत की प्यास कितनी बढ़ जाती है. मैं अपने पति से जी भर कर चुदवाना चाहती थी लेकिन अचानक मुझे बाहर जाना पड़ रहा था. इसी कारण से मैं मन ही मन दुखी थी.

यह कहानी भी पड़े चुदाई के शोले कामुकता कहानी

तभी कूपे में वो हेंडसम टीटी आ गया. उसने कहा

“मैडम आप गेट बंद कर लीजिये मैं कुछ देर में आता हूँ तब आपका टिकेट चेके कर लूँगा.”

उसके जाने के बाद मैंने सोचा की चलो कपड़े बदल लेती हूँ. क्योंकि रात भर का सफर था और मुझे साड़ी में नींद नहीं आती. ये सोच कर मैंने गाउन निकालने के लिए अपना सूटकस खोला तो सर पकड़ लिया. क्योंकि मैं जल्दबाजी में गाउन के ऊपर वाला नेट का पीस तो ले

आई थी लेकिन अन्दर पहनने वाला हिस्सा घर पर ही रह गया था. जो हिस्सा मैं लाई थी वो पूरा जालीदार था जिसमें से सब कुछ दीखता था.

करीब दो मिनट बैठने के बाद मेरी अन्तर्वासना ने मुझे एक नया निर्णय लेने के लिए विवश कर दिया. मैंने सोचा कि क्यों आज इस हेंडसम नौजवान से चुदाई का मज़ा लिया जाए. ये बात दिमौसी ग में आते ही मैंने वो जालीदार केवर निकाल लिया और ज़ल्दी से अपनी साड़ी, ब्लाउज़ और पेटीकोट निकाल दिए. अब मेरे बदन पर रेड कल र की पेंटी और ब्रा थी. उसके ऊपर मैंने सफ़ेद रंग का जालीदार गाउन पहन लिया. वैसे उसको पहनने का कोई फायदा नहीं था क्योंकि उसमे से सब कुछ साफ़ नज़र आ रहा था और उससे ज्यादा मज़ेदार बात ये थी कि अन्दर पहनी हुई ब्रा और पेंटी भी जालीदार थी. इसलिए बाहर से ही मेरे निपल तक नज़र आ रहे थे. ख़ुद को आईने में देखकर मैं ख़ुद ही गरम हो गई. साड़ी तैयारी करने के बाद मैं अपनी सीट पर लेट गई और मैगज़ीन पढ़ते हुए टीटी का इंतजार करने लगी. मुझे इंतज़ार करते करते पाँच मिनट बीत गए तो मैंने सोचा कि क्यूँ न पहले खाना खाकर फ्री हो लूँ ये सोच कर मैंने अपना खाना निकाल लिया जो मैं घर से साथ लाई थी. खाना शुरू करते हुए मैंने सोचा कि खाने के बीच मैं टीटी टिकेट चेके करने आ गया तो बीच में उठ कर टिकेट निकालना पड़ेगा ये सोच कर मैंने अपने पर्स में रखा टिकेट निकाल लिया. टिकेट हाथ में आते ही मेरी आँखों के सामने उस टीटी का जवान बदन घूम गया और मेरे अन्दर की सेक्सी औरत ने अपना काम करना शुरू कर दिया. मैंने पहले ही जालीदार कपड़े पहने थे जिसमे से मेरा पूरा बदन दिखाई पड़ रहा था और फिर मैंने अपना टिकेट भी अपने बड़े बड़े स्तनों के अन्दर ब्रा के बीच मैं डाल लिया. अब वो टिकेट दूर से ही मेरे बायें उरोज के निप्पल के पास दिखाई दे रहा था.

यह कहानी भी पड़े मस्त भाभी के साथ होटल में मौज़

पूरी तैयारी के बाद मैं खाना खाने लगी. तभी मेरे कूपे का गेट खुला और टीटी अन्दर आ गया. अन्दर आते ही मुझे पारदर्शी केपडों में देखकर बेचारे को पसीना आ गया. वह बिल्कुल सकेपका गया और इधर उधर देखने लगा. मैंने उसका होंसला बढ़ाने के लिए उसकी तरफ़

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2 3 4 5 6

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


Antarvasna sadhuain ke choda kahaniचची का शराबी पति सेक्स स्टोरीहिंदी सेक्स कामिकरिता कि चुदाईस्टोरी मोटा लंड मराठीचाची ने रात को लौंडा चूसा सेक्स स्टोरीजताऊ और माँ कि चुदाई खेत मेबाकी लड़कियों की लैंड चूसाई और मुंह में पानी निकालनाचुदक्कड बहन कीSex story hidin.रागिनी और उसके बहनो की सेक्सी कि चूत चुदाई बुर फाड कहानियाduur se chudwate dekha sex storyहिन्दी सेक्स स्टोरीजैसे चूत फट जाएगीलड़की की चूतchhotibahankichudaiरंडी ka cum nikal gayaSex baba chudayi rishto mekhamu kata dot com bhai bhan ki khani handi mananhi jaan antarvasnabhabhi ko gundo ne choda sex storieshaste huye bhabhi ke chudai karte पति के सामने चुदाई मेरी चुतबेटे ने मौसी और माँ का गाँड माराऔरतों का चूतmeri kamuk mummy or bua jiचुदाईबाती की चूत फट गईChoot ka jharna antarvasanWasna se hua sex antarvasna storiesMeri maa aur mere gandu dost ki maa ki badi badi chuchiya2018की भाभी की बस के सफर मे चुकाई की कहानियामामी भांजे क xxx.comsex story bhabhi ne chudwaya padosan bahane se shararatsex videoa chut me loha gusayaRndiao ka chudae antarvasana ushakiउई माँ मर गई चुदाई videoXxx video 8salcmo 2018judwa chakkar savita bhabhi kadi free download pdfसोतेली बहन की भरपूर चुदाई हिंदी स्टोरीकोमल की कामुक कहानिया क्यों चोदू तुम्हे कहानीमाँ की चुदाई अंकल से नई कहानियाचुचीकलाश रूम मे चुत कहानीमामी जी फौज मे मामी चुदाईमहिला और सर का चुदाईpani me tierna sikhane ke bhane chodaकालीचुत लँडहजारों sexhindiमम्मी पापा सेक्स स्टोरीकच्ची उम्र मे शील तोड़ी स्टोरीDesi new chutचची की छूट की गर्मी मुझसे उतरी हिंदी स्टोरीमेरी तीनों बहनों की मेरे साथ चुदाई की मजेदार कहानियाँgeetha की चूतपूछने लगी तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंडकाली।चूतवासनामाँ और फूफा जी हिंदी सेक्स स्टोरीshuhagrat pe gannd msrisex storyneharani ki chudai storyhalala ke bad chudwaiBhabi ki gili panty ho gyi storyantarvasna.jhad gayi par nahi ruka dhakke lagata rahaसेक्सी वीडियो पंजाबी बोलते हुए सेक्स करतेचाची और बहन की चुदाईचूत चोदना चुदाई खानाचाचा ने लंड डालकर दीया मजाचोदchuchi jore से masalne की कहानीFacebook friend ki chudaiआंटी की चुदाईचूतmujhe dekar chodaपंडित के साथ चुदाई