वासना की अग्नि -2


Click to Download this video!

जब उनकी हथेली चूचियों पर से गुज़रती तो वे दबती नहीं बल्कि स्वाभिमान में उठी रहतीं। मास्टरजी को स्वर्ग का अनुभव हो रहा था। इसी दौरान उन्हें एक और अनुभव हुआ जिसने उन्हें चौंका दिया, उनका लिंग अपनी मायूसी त्याग कर फिर से अंगडाई लेने की चेष्टा कर रहा था। मास्टरजी को अत्यंत अचरज हुआ। उन्होंने सोचा था कि दो बार के विस्फोट के बाद कम से कम १२ घंटे तक तो वह शांत रहेगा। पर आज कुछ और ही बात थी। उन्हें अपनी मर्दानगी पर गरूर होने लगा। चिंता इसलिए नहीं हुई क्योंकि प्रगति का सिर ढका हुआ था और वह कुछ नहीं देख सकती थी। मास्टरजी ने अपने लिंग को निकर में ही ठीक से व्यवस्थित किया जिस से उसके विकास में कोई बाधा न आये।

जब तक प्रगति की आँखें बंद थीं उन्हें अपने लंड की उजड्ड हरकत से कोई आपत्ति नहीं थी। वे एक बार फिर प्रगति के पेट के ऊपर दोनों तरफ अपनी टांगें करके बैठ गए और उसकी नाभि से लेकर कन्धों तक मसाज करने लगे। इसमें उन्हें बहुत आनंद आ रहा था, खासकर जब उनके हाथ बोबों के ऊपर से जाते थे। कुछ देर बाद मास्टरजी ने अपने आप को खिसका कर नीचे की ओर कर लिया और उसके घुटनों के करीब आसन जमा लिया। अपना वज़न उन्होंने अपनी टांगों पर ही रखा जिससे प्रगति को थकान या तकलीफ़ न हो।
मास्टरजी के घर से चोरों की तरह निकल कर घर जाते समय प्रगति का दिल जोरों से धड़क रहा था। उसके मन में ग्लानि-भाव था। साथ ही साथ उसे ऐसा लग रहा था मानो उसने कोई चीज़ हासिल कर ली हो। मास्टरजी को वशीभूत करने का उसे गर्व सा हो रहा था। अपने जिस्म के कई अंगों का अहसास उसे नए सिरे से होने लगा था। उसे नहीं पता था कि उसका शरीर उसे इतना सुख दे सकता है। पर मन में चोर होने के कारण वह वह भयभीत सी घर की ओर जल्दी जल्दी कदमों से जा रही थी।

यह कहानी भी पड़े मेरी शरीफ बहन को धोबी ने छिनाल बना दिया

जैसे किसी भूखे भेड़िये के मुँह से शिकार चुरा लिया हो, मास्टरजी गुस्से और निराशा से भरे हुए दरवाज़े की तरफ बढ़े। उन्होंने सोच लिया था जो भी होगा, उसकी ख़ैर नहीं है।

“अरे भई, भरी दोपहरी में कौन आया है?” मास्टरजी चिल्लाये।

जवाब का इंतज़ार किये बिना उन्होंने दरवाजा खोल दिया और अनचाहे महमान का अनादर सहित स्वागत करने को तैयार हो गए। पर दरवाज़े पर प्रगति की छोटी बहन अंजलि को देखते ही उनका गुस्सा और चिड़चिड़ापन काफूर हो गया। अंजलि हांफ रही थी।

“अरे बेटा, तुम? कैसे आना हुआ?”

“अन्दर आओ। सब ठीक तो है ना?” मास्टरजी चिंतित हुए। उन्हें डर था कहीं उनका भांडा तो नहीं फूट गया….
अंजलि ने हाँफते हाँफते कहा,”मास्टरजी, पिताजी अचानक घर जल्दी आ गए। दीदी को घर में ना पा कर गुस्सा हो रहे हैं।”

मास्टरजी,”फिर क्या हुआ?”

अंजलि,”मैंने कह दिया कि सहेली के साथ पढ़ने गई है, आती ही होगी।”

मास्टरजी,”फिर?”

अंजलि,”पिताजी ने पूछा कौन सहेली? तो मैंने कहा मास्टरजी ने कमज़ोर बच्चों के लिए ट्यूशन लगाई है वहीं गई है अपनी सहेलियों के साथ।”

अंजलि,”मैंने सोचा आपको बता दूं, हो सकता है पिताजी यहाँ पता करने आ जाएँ।”

मास्टरजी,”शाबाश बेटा, बहुत अच्छा किया !! तुम तो बहुत समझदार निकलीं। आओ तुम्हें मिठाई खिलाते हैं।” यह कहते हुए मास्टरजी अंजलि का हाथ खींच कर अन्दर ले जाने लगे।

अंजलि,”नहीं मास्टरजी, मिठाई अभी नहीं। मैं जल्दी में हूँ। दीदी कहाँ है?” अंजलि की नज़रें प्रगति को घर में ढूंढ रही थीं।

मास्टरजी,”वह तो अभी अभी घर गई है।”

अंजलि,” कब? मैंने तो रास्ते में नहीं देखा…”

मास्टरजी,”हो सकता है उसने कोई और रास्ता लिया हो। जाने दो। तुम जल्दी से एक लड्डू खा लो।”

मास्टरजी ने अंजलि से पूछा,”तुम चाहती हो ना कि दीदी के अच्छे नंबर आयें? हैं ना ?”

अंजलि,”हाँ मास्टरजी। क्यों? ”

मास्टरजी,”मैं तुम्हारी दीदी के लिए अलग से क्लास ले रहा हूँ। वह बहुत होनहार है। क्लास में फर्स्ट आएगी।”

अंजलि,”अच्छा?”

मास्टरजी,”हाँ। पर बाकी लोगों को पता चलेगा तो मुश्किल होगी, है ना ?”

यह कहानी भी पड़े एक कुंवारी लड़की की चुदाई

अंजलि ने सिर हिला कर हामी भरी।

मास्टरजी,”तुम तो बहुत समझदार और प्यारी लड़की हो। घर में किसी को नहीं बताना कि दीदी यहाँ पर पढ़ने आती है। माँ और पिताजी को भी नहीं…. ठीक है?”

अंजलि ने फिर सिर हिला दिया…..

मास्टरजी,”और हाँ, प्रगति को बोलना कल 11 बजे ज़रूर आ जाये। ठीक है? भूलोगी तो नहीं, ना ?”

अंजलि,”ठीक है। बता दूँगी…। ”

मास्टरजी,”मेरी अच्छी बच्ची !! बाद में मैं तुम्हें भी अलग से पढ़ाया करूंगा।” यह कहते कहते मास्टरजी अपनी किस्मत पर रश्क कर रहे थे। प्रगति के बाद उन्हें अंजलि के साथ खिलवाड़ का मौक़ा मिलेगा, यह सोच कर उनका मन प्रफुल्लित हो रहा था।

मास्टरजी,”तुम जल्दी से एक लड्डू खा लो !”

“बाद में खाऊँगी” बोलते हुए वह दौड़ गई।

अगले दिन मास्टरजी 11 बजे का बेचैनी से इंतज़ार रहे थे। सुबह से ही उनका धैर्य कम हो रहा था। रह रह कर वे घड़ी की सूइयां देख रहे थे और उनकी धीमी चाल मास्टरजी को विचलित कर रही थी। स्कूल की छुट्टी थी इसीलिये उन्होंने अंजलि को ख़ास तौर से बोला था कि प्रगति को आने के लिए बता दे। कहीं वह छुट्टी समझ कर छुट्टी न कर दे।
वे जानते थे 10 से 4 बजे के बीच उसके माँ बाप दोनों ही काम पर होते हैं। और वे इस समय का पूरा पूरा लाभ उठाना चाहते थे। उन्होंने हल्का नाश्ता किया और पेट को हल्का ही रखा। इस बार उन्होंने तेल मालिश करने की और बाद में रति-क्रिया करने की ठीक से तैयारी कर ली। कमरे को साफ़ करके खूब सारी अगरबत्तियां जला दीं, ज़मीन पर गद्दा लगा कर एक साफ़ चादर उस पर बिछा दी। तेल को हल्का सा गर्म कर के दो कटोरियों में रख लिया। एक कटोरी सिरहाने की तरफ और एक पायदान की तरफ रख ली जिससे उसे सरकाना ना पड़े। साढ़े १० बजे वह नहा धो कर ताज़ा हो गए और साफ़ कुर्ता और लुंगी पहन ली। उन्होंने जान बूझ कर चड्डी नहीं पहनी।

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


park ma cuht ma boht dalana sexअजनबी ने दोस्त के मम्मी को पटाय कहाणीMadam ko class me choda antervasnaxxx ghachak ghachak chudai jabarjastiChudayi unknownमामी की चुदाईxxx com maja aata h kaseचुद गई पापा की परीसंकरी चुतmaderchod beta Hindi sex storyMaa ne bete ko bnaya choot ka gulam hindi sexy khaniरस भरी चुतLund pikar piyaas bujhai xvideoपापा का तगड़ा लोडा sax storiesमांसी चूदीgao me huee pariwarik gand aur chut chudai khaniya.comDelhi university girls hostel pati injay sex Jawan chut ki kasakyatra me risto me hui chudai ki hindi storymama ke 12 inch ke land se khet me bur fadwayididi ke kankh par baalचुदाई कच्ची कली कीखाल्ला ने चुत चुदवाईXXX aakhir beta kiska hai Hindi chudi storyबीवी की चुदासनर्स हिंदी सेक्स स्टोरीachche figar wali antiyaचुदाइ किकहानिsikandar and lovely ki chudai xxx kahaniराज शर्मा इन्सेस्ट स्टोरीभुरि लडकी का शेकशantarvasna safarWww xxx Bhabhi ne chudwayamms vidieo.comtantrikne choda muje or meri betiko sex storyछत के बाथरूम में पड़ोस की लड़की कहानीहिनदि सेशसि विडियो माशटरओर मेडमbono bhabhi ne nanad ko chudaya sex storyबुरwww.maa bahen maa bani new antarvasana. comसाली की बेटी का कुँवारा यौवन पार्ट 2buaa ki chudai ki kahania sexbaba.comsarif larki ki seal todi bahana banakar in hindiचुथ का चोदाइ gadchudwati ass bhabhi ki kahaniभाई ने ट्रक में चोद दिया स्टोरीकहानी बेटी ने अपने ससुर चुदवाया माँ कोचुद गई पापा की परीपापा ने रात को चोदाअनजाने में माँ की चुदाईSadi suds orat ki chodar kahani hindi maiHindi bhabhi ko pehli baar gadhe ke land se sex storyphimpim tvsexमामी के बुर मेलंड कहानीxvideos con dau len lutXXNXX COM. मेरी चूत कि चमड़ी चाटने लगा सेक्सी विडियों chachi jin sax kahine hindbua ki ldki nancy ki chut chudai ki kahanikirayedar aunty sex story in hindiससुर और बहु की कामवासना और चुदाई 8Bur Ka chaska khaniचूत में दो लंड डालते हैंBhabi ki peticot me cockroach लड़के से अपना दूध कैसे चुसवाए??papa ko swap karke sex story in hindiChora na girll xxx dot com vodo keaसेक्सी माल की कहानीचूत गाङ चुदाई की कहानियाTAI KI CHUDAI KI KHANIYApiNkee jee kee biloo filammumbai ki barish aor ma bete ka pyaar xxx kahaniचुदाई कच्ची कली कीसपना का बदला 2 sxsi khaniyaXXXanti pajaban chut Vedo ताऊऔर मां कि चुदाई desi pabhi hanjra wali pabhisex पति के बगल में सोते हुए दूसरा पति एक्स एक्स एक्स वीडियो डॉट कॉमKarwa Chauth mein chudai oxssip sex storyलडकी चुतसिमा की च**** की कहानी.comमम्मी को बेटे ने 11इच के लौडे से चोदा सेकस ईटोरीमैं मेरी सहेली ने मेरी चूत चुदाई गैर मर्द के मोटे लुंड से